ट्रे¨नग के बाद भीलवारा में प्लेसमेंट पाने वाले विद्यार्थियों को रेवाड़ी में ही छोडा

माधोपुर के रूरल स्किल सेंटर में ट्रे¨नग लेने के बाद विद्यार्थियों को प्लेसमेंट के लिए भीलवाड़ा पहुंचाना था लेकिन अधिकारी ने विद्यार्थियों को हरियाणा के रेवाड़ी में ही छोड़ दिया और खुद वहां से गायब हो गया।

अपोलो के प्लेसमेंट अधिकारी द्वारा लेकर गए 35 विद्यार्थियों में से 6 लडकियां भी शामिल थी।

बुधवार को विद्यार्थियों वापिस माधोपुर के रूरल सेंटर पहुंचे और वहां सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। नीरज शर्मा, आनंद, विक्रमजीत, अमन, रमन, र¨जद्र, पूजा, गीता, मधु, ¨बदु एवं वंदना ने बताया कि दो दिसंबर को नौकरी के लिए राजस्थान के भीलवाड़ा जाना था।

इसके लिए प्लेसमेंट अधिकारी रोहित ने उनसे 600 रुपये भी लिए गए थे लेकिन उसने विद्यार्थियों को हरियाणा के रेवाड़ी में ही उतार दिया गया तथा वहां एक फैक्ट्री के ठेकेदार के अंडर काम करने के लिए छोड़ दिया। विद्यार्थियों ने बताया कि जब उन्होंने इसका विरोध किया तो प्लेसमेंट अधिकारी रोहित सबको वहां छोड़कर चला गया।

विद्यार्थियों सरकार से मांग करते हुए कहा कि जिले के युवाओं के साथ धोखा किया गया है उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए। उन्होंने बताया कि सेंटर में उन्हें 125 रुपये प्रतिदिन मिलते थे लेकिन 47 दिन से वह पैसा भी नहीं मिला। इस मौके पर शिव सेना समाजवादी के उत्तर भारत प्रमुख रवि शर्मा भी मौजूद थे। वहीं प्रदर्शन कर रहे विद्यार्थियों की बात सुनने के लिए एडीसी गुरप्रताप नागरा भी पहुंचे और उन्होंने विद्यार्थियों को लिखित शिकायत करने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि मामला उनके ध्यान में आ गया है जल्द ही अधिकारियों के ध्यान में बात लाकर बनती कार्रवाई की जाएगी।

Share This:

REVIEWS

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    9 + 1 =